Rose (गुलाब)

Rose Day 7 February को मनाया जाता है। गुलाब का फुल दुनिया का सबसे खूबसूरत और सुगंधित और मनमोहक फुल मन जाता है। इस फुल का बहुत अधिक उपयोग किया जाता है। ये फुल भगवन के चरणों में और गले की माला से सुसोभित किया जाता है। और प्रेमी और प्रेमिका एक दूसरे को प्यार का इजहार करने के लिए एक दूसरे को देते है। गुलाब के फुल का महत्व दुनिया भर में है। तो चलिए गुलाब के फुल के बारे में कुछ जानकारी लेते है।

1-गुलाब (Rose) फुल का पौधा कांटेदार होता है। यहाँ एक प्रकार का झाड़ीदार पौधा है। जिसकी टहनियों पर खुसबूदार रंग बिरंगी फुल खिलते है।

2 -गुलाब का फुल पूरी दुनिया में पाया और लगाया जाता है। ये फुल सभी को बहुत पसंद आता है।

3 -गुलाब के पौधे की विभिन्न किस्म की प्रजातिया पाई जाती है। इस पौधे की 100 से भी अधिक प्रजातियाँ पुरे दुनिया में पाई जाती है। 

4 -गुलाब के फुल का इस्तेमाल इत्र बनाने में किया जाता है। इसकी मंद मंद खुशबू मन को मोहक लेती है।

5 -गुलाब के फूलों का इस्तेमाल भगवान के पूजा में मंदिरो को सजाने में ,शादियों में ,पार्टीओ में ,एक दुसरो को तोफे देने में,सजाने में ,वरमाला बनाने में ,आदि जगहों में इस्तेमाल किया जाता है।

6 -यह एक फुल है। जिसका जन्म दिन 7 February को पूरी दुनिया में मनाया जाता है।

7 – गुलाब के फुल को प्यार का प्रतिक भी मन जाता है।

8 -गुलाब के फूलों की पतियों से गुलकंद बनाया जाता है। जो पान में लगाया जाता है। जो खाने में बहुत अच्छा होता है। गुलाब जल भी गुलाब से बनाया जाता है। गुलाब जल आँखो में जलन होने पर इस्तेमाल किया जाता है जो आँखो में ठंडक देता है। इसे त्वचा में लगाया जाता है। जिसे त्वचा कोमल ,मुलायम ,चमकदार,और सुन्दर बनजाती है।

9 -भारत के नेता तथा राजनेता इस फूल को अपने कोट में लगते है।

10 -गुलाब के फूलों को फूलों का राजा भी कहाँ जाता है।

11 -गुलाब के फूलों से कॉस्मेटिक का सामान भी बनाया जाता है।

12 -गुलाब के फूलों की खेती भारत में तथा देश-विदेशों में किया जाता है। और इसका व्यापर किया जाता है। एक साल में करोडो रुपये के गुलाब को बेचकर पैसा कमाया जाता है।